ऋषिकेश में दो आवारा सांडों की चपेट में आने से 9 वर्षीय बालक की मौत पर राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग ने संज्ञान लेते हुए किया मुकदमा दर्ज।


ऋषिकेश 13 मई। ऋषिकेश नगर निगम क्षेत्र में होली के अवसर पर 28 मार्च 2021 को ऋषिकेश स्थित शिवाजी नगर में दो आवारा पशु सांड की लड़ाई में आ जाने से घर के बाहर खेल रहे एक 9 वर्षीय बच्चे की मौत हो गई थी । जिससे क्षेत्र के लोगों में काफी आक्रोश उत्पन्न हो गया था। इसके अलावा भी ऋषिकेश नगर निगम क्षेत्र  में पिछले दो-तीन माह मैं आवारा पशुओं की कई घटनाएं हो चुकी है जिसमें बनखंडी स्थित एक घर में आवारा पशुओं का झुंड  घुस गया था जिसने घर में रहने वाले परिवार वालों को चोटिल कर दिया था जिस पर आवारा पशुओं को बड़ी मुश्किल से घर से बाहर निकाला गया था और इसके अलावा भी सड़क में चल रही दो युवतियों को भी आवारा पशुओं ने चोटिल कर दिया था आलम यह हो गया था की ऋषिकेश में नेशनल हाईवे सार्वजनिक स्थल और गली मोहल्लों में आवारा पशुओं ने अपना पूरा आतंक मचाया हुआ था ।

शिवाजी नगर में आवारा पशुओं (सांडों )की लड़ाई में हुई 9 वर्षीय बच्चे की मौत के  संबंध में नगर निगम ऋषिकेश क्षेत्र के निवासी अमित कुमार जाटव ने एक जनहित शिकायत याचिका राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग भारत सरकार से नगर निगम ऋषिकेश के खिलाफ 2 अप्रैल 2021 को की गई थी । जिसकी  प्रतिलिपि मुख्य न्यायाधीश उच्चतम न्यायालय दिल्ली भारत सरकार व माननीय राष्ट्रपति महोदय को भी प्रेषित की गई थी। जिस संबंध में राष्ट्रीय मानव  अधिकार आयोग भारत सरकार ने संज्ञान लेते हुए इसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर दिया गया है। ओर उसका केस नंबर जारी भी कर दिया गया है। आयोग ने मुकदमा दर्ज कर केस नंबर .NHRC has registered a case no. 484/35/5/2021 on the complaint regarding 9 yr old boy. – HRCNet,NHRC जारी कर  वेबसाइट पर डाल दिया गया है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *