पति की हत्या करने के जुर्म में पत्नी व साजिश रचने वाले जिम ट्रेनर प्रेमी को पुलिस ने किया गिरफ्तार


देहरादून। 31 मई । थाना रायपुर पुलिस ने नत्थूवाला निवासी प्रॉपर्टी डीलर पति को नींद की गोली खिलाकर हत्या करने के जुर्म में पत्नी को रविवार की सुबह गिरफ्तार किया है। साथ ही हत्या की साजिश रचने में शामिल जिम ट्रेनर प्रेमी को भी गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने दोनों आरोपी को न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया है।

बता दें कि 28 मई को अस्पताल से 43 वर्षीय पंकज भट्ट निवासी नत्थूवाला का डेथ मेमो मिला था। जिसके बाद पुलिस ने पंकज के शव का पोस्टमॉर्टम करवाया। उसके बाद 29 मई को मृतक की मां पुष्पा भट्ट की तहरीर के आधार पर मुकदमा पंजीकृत किया गया। घटना का खुलासा करने के लिए पुलिस टीम गठन किया गया। पुलिस ने घटनास्थल का निरीक्षण किया। घटनास्थल पर जाकर मृतक की मां पुष्पा भट्ट से पूछताछ की गई।

पुष्पा भट्ट ने बताया कि उसका बड़ा बेटा पंकज अपनी पत्नी विजयलक्ष्मी एवं 4 वर्ष की बेटी आज्ञा के साथ इसी घर के निचले फ्लोर पर रहता था। छोटा बेटा पारस अपनी पत्नी एवं मां (मेरे साथ) ऊपर वाले फ्लोर पर रहता था। पंकज भट्ट की शादी वर्ष 2006 में हुई थी लेकिन शादी के बाद से ही विजयलक्ष्मी और पंकज में आपसी झगड़े होते रहते थे। विजयलक्ष्मी का किसी दीपक नाम के लड़के के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था। पंकज भट्ट ने अपनी पत्नी के पास दो मोबाइल भी पकड़े थे। जिनमें उस लड़के के साथ इसकी कई फोटो थी। मृतक की मां ने आरोप लगाया था कि उसके बेटे पंकज की पत्नी विजयलक्ष्मी ने ही अपने प्रेमी दीपक के साथ मिलकर पकंज की हत्या की है। 26 मई को दीपक का जन्मदिन था। विजयलक्ष्मी ने दीपक से नींद की गोली मंगवाई। दीपक ने अपने दोस्त के माध्यम से नींद की गोली लेकर विजयलक्ष्मी को दी। 26 मई को दीपक अपने दोस्तों के साथ अपने जन्मदिन में बिजी होने के कारण 26 तारीख को विजयलक्ष्मी के घर नहीं जा पाया। 27 मई की रात विजयलक्ष्मी ने योजना के अनुसार दीपक से बात कर अपने पति को नींद की गोलियां खिला दी। उसके बाद दीपक उसके घर आया. दोनों एक घंटे साथ रहे। उसके बाद दीपक वापस अपने घर चला गया। रात में विजयलक्ष्मी के पति पंकज भट्ट की मौत हो गई। जिस बात को विजया ने अपने घरवालों से छुपाया। विजयलक्ष्मी और दीपक की कॉल डिटेल रिकॉर्ड खंगाली गई तो घटना की रात में 26 कॉल एक दूसरे को की गई थी। कॉल डिटेल के अनुसार भी दीपक रात 11 बजे से 12 बजे तक विजयलक्ष्मी के घर पर ही मौजूद था।

विजयलक्ष्मी ने पुलिस को बताया की वह अपने पति पंकज भट्ट से छुटकारा चाहती थी। इसीलिए उसने पंकड को नींद की गोलियां देकर मार डाला। थाना रायपुर प्रभारी दिलबर सिंह नेगी ने बताया कि पुलिस ने दोनों की कॉल डिटेल रिकॉर्ड की जांच की. जिसके बाद प्रेमी दीपक से सख्त पूछताछ की गई। जिसमें दीपक ने अपना जुर्म कबूल कर लिया। पूछताछ में दीपक ने बताया कि उसका और विजयलक्ष्मी का साल 2018 से मिलना जुलना है। वह जिम ट्रेनर है, जहां 2018 में ही उसकी मुलाकात विजय लक्ष्मी से बॉडी टेंपल जिम में हुई थी. तभी से दोनों की दोस्ती हो गई. विजयलक्ष्मी दीपक से बार-बार मिलना चाहती थी। कुछ दिनों पहले ही विजयलक्ष्मी ने दीपक को बताया कि उसके पति को उनके अफेयर के बारे में पता चल गया है।

मृतक की मां पुष्पा भट्ट की तहरीर के आधार पर मुकदमा पंजीकृत कर मृतक पंकज भट्ट की पत्नी विजयलक्ष्मी वा हत्या की साजिश रचने में शामिल जिम ट्रेनर प्रेमी को गिरफ्तार करके पुलिस ने दोनों आरोपी को न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *