विवाहित महिला पारिवारिक विवाद के चलते संदिग्ध परिस्थितियों में घर के अंदर फांसी के फंदे से झूलती हुई मिली , प्रथम दृष्टयां आत्महत्या का मामला प्रतीत, पुलिस ने की जांच शुरू 



ऋषिकेश, 16 नवम्बर । ऋषिकेश कोतवाली क्षेत्र की श्यामपुर चौकी अंतर्ग‌त पारिवारिक अंतर कलह के चलते एक विवाहिता महिला घर के अंदर संदिग्ध परिस्थितियों में पंखे में चुन्नी बांध के फांसी के फंदे से लटकी हुई मिली। जो की प्रथम दृष्टयां आत्महत्या का मामला प्रतीत हो रहा है।  महिला का विवाह 5 वर्ष पूर्व हुआ था।

कोतवाली प्रभावी निरीक्षक खुशीराम पांडे ने बताया कि रामेश्वर कॉलोनी श्यामपुर में एक विवाहिता द्वारा फांसी लगा लिए ‌जाने की सूचना पर चौकी प्रभारी श्यामपुर मौके पर पहुँचे। जहां मौके पर पूजा उम्र 22 वर्ष पत्नी संजू खड़का हाल निवासी रामेश्वर पुरम श्यामपुर कोतवाली ऋषिकेश जनपद देहरादून द्वारा पंखे पर चुन्नी के फंदे से फांसी लगा मिली। जो की प्रथम दृष्टि आत्महत्या का मामला प्रतीत हो रहा है।

जहां मृतका की मां  दीपा देवी एवं मृतका के दो बच्चे भी मौजूद थे। मृतका का पति संजू ड्राइवरी करता है, जिसका घनसाली टिहरी में होना बताया गया है। मृतका के परिजनों से जानकारी करने पर प्रथमदृष्टया मृतका द्वारा पारिवारिक विवाद के कारण आत्महत्या किया जाना प्रकाश में आया है।

मौके पर 108 एम्बुलेंस को बुलवाकर शव को जिला अस्पताल ऋषिकेश भेजा गया है। चूंकि मृतका की शादी को लगभग 5 वर्ष हुए हैं, जिसका पंचायत नामा भरने हेतु संबंधित मजिस्ट्रेट से पत्राचार किया जा रहा है। घटना की जांच की जा‌ रही है।

11वीं कक्षा के छात्र ने अपने घर में पंखे से फांसी का फंदा लगाकर करी आत्महत्या



ऋषिकेश ,22 अक्टूबर । जनपद टिहरी गढ़वाल के ग्रामलोरसी दोगी पट्टी में एक छात्र ने अपने घर में उस समय पंखे से फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली, जब उसके परिजन खेत में काम करने गए थे।

मिली जानकारी के अनुसार रविवार की सुबह 8:30 बजे थाना मुनि की रेती अंतर्गत ‌ग्राम लोरसी दोगी पट्टी‌ निवासी निवासी, अनुज 17 वर्ष पुत्र गोविंद राम जोकि 11वीं का छात्र था ,ने उस समय अपने कमरे में पंखे से फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। जब घर के सभी परिवारजन खेत में काम करने गए थे। जब गोविंद राम खेत से घर लौटे तो उन्होंने कमरे का दरवाजा बंद देखा तो कमरा अंदर से बंद था, लेकिन घर के दरवाजे में अंदर से कुंडी नहीं लगी थी, तो उन्होंने घर का दरवाजा खोलकर देखा तो फांसी के फंदे पर लटका‌ था।

इसके बाद उन्होंने खेत में सभी परिजनों को इसकी सूचना दी और उसके बाद फिर सभी परिजन घर लौटे और उन्होंने उसे फांसी के फंदे से उतार कर राजकीय चिकित्सालय ऋषिकेश उपचार के लिए लाए जहां चिकित्सकों ने उसे मृत्यु घोषित कर दिया है।

जिसकी सूचना चिकित्सालय प्रशासन ने पुलिस को दे दी‌ है । जो कि मामले की जांच कर रही है।

रेलवे रोड पर नौजवान युवक अपनी ही मोबाइल की दुकान के अंदर संदिग्ध परिस्थितियों में फांसी के फंदे से लटका मिला, चिकित्सक ने किया मृत घोषित



ऋषिकेश  25 सितंबर। ऋषिकेश थाना क्षेत्र अंतर्गत रेलवे रोड पर एक नौजवान द्वारा अपनी ही दुकान में संधिग्ध परिस्थितियों में फांसी पर लटका हुआ मिला प्रथम दृष्टया मामला आत्महत्या का प्रतीत हो रहा है।

ऋषिकेश कोतवाली प्रभारी खुशीराम पांडे ने बताया कि उन्हें जानकारी मिली कि सोमवार  सुबह रेलवे रोड स्थित एक दुकानदार ने फांसी लगाकर कर आत्महत्या कर ली है।

पुलिस की जानकारी के अनुसार रेलवे रोड पर स्थित व्हाट्सएप टेलीकॉम के नाम से मोबाइल की दुकान के मालिक सौरभ खट्टर पुत्र रामस्वरूप खट्टर, 32 वर्ष ने अपनी ही दुकान के अंदर संदिग्ध परिस्थितियों में फांसी के फंदे से लटका मिला।

जिसको परिजनो द्वारा आनन फानन में सरकारी अस्पताल लाया गया जहां पर उपस्थित चिकित्सक ने उसको मृतक घोषित कर दिया गया। बताया जा रहा है कि सौरव खट्टर द्वारा आज सुबह नियमित तरीके सुबह 9:00 बजे से दुकान को खोलकर दुकान में ही बैठा था परंतु करीब 11:00 बजे उसके द्वारा दुकान का शटर बंद कर लिया गया जिस पर आसपास के पड़ोसी दुकानदार काफी देर तक शटर खोलने का इंतजार करते रहे परंतु शटर खुलता ना देख उनके मन में शंका हुई और उन्होंने शटर को खोलकर  देखा तो सौरव खट्टर संदिग्ध परिस्थितियों में फांसी के फंदे पर झूल रहा था।

बताया जा रहा है कि सौरव खट्टर अभी तक अविवाहित था। घटना के पश्चात मौके पर पहुंची पुलिस द्वारा मर्तक के शव को अपने कब्जे में ले लिया और राजकीय चिकित्सालय की मोर्चरी में रखकर पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।