पर्यावरणविद सुंदरलाल बहुगुणा को पूर्णानंद घाट पर राजकीय सम्मान के साथ पंचतत्व में बड़े पुत्र राजीव नयन ने दी मुखाग्नि


ऋषिकेश,21 मई । पर्यावरणविद् सुन्दरलाल बहुगुणा के निधन के उपरांत मुनिकीरेती स्थित पूर्णानंद घाट पर राजकीय सम्मान के साथ उनके बड़े पुत्र राजीव नयन बहुगुणा के मुखाग्नि देने के उपरांत अंतिम संस्कार कर दिया गया। बहुगुणा के निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत सहित सभी राजनीतिक सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधियों ने गहरा दुख व्यक्त किया है । ज्ञात रहे कि सुंदरलाल बहुगुणा ऋषिकेश एम्स में पिछले कुछ दिनों से लाइफ सपोर्ट पर थे।

एम्स के चिकित्सकों की टीम लगातार उनके स्वास्थ्य पर नजर बनाए हुई थी। उनकी स्थिति कई दिनों से स्थिर बनी हुई थी। पर्यावरणविद् सुन्दरलाल बहुगुणा का शुक्रवार को दोपहर करीब 12 बजे अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, एम्स ऋषिकेश में उपचार के दौरान देहांत हो गया। वह डायबिटीज व हाईपरटेंशन के पेशेंट थे और उन्हें कोविड निमोनिया की शिकायत थी। गौरतलब है, कि 94 वर्षीय बहुगुणा को कोरोना संक्रमित होने के बाद से बीती 8 मई को एम्स, ऋषिकेश में भर्ती किया गया था।

संस्थान के जनसंपर्क अधिकारी हरीश मोहन थपलियाल ने बताया कि  बहुगुणा का उपचार  के दौरान शुक्रवार को निधन हो गया। वह मधुमेह व उच्चरक्तचाप के मरीज थे व पिछले कुछ दिनों से लाइफ सपोर्ट पर थे। पूर्णानंद घाट पर सुंदर लाल बहुगुणा को राजकीय सम्मान के साथ बंदूकों की सलामी दी गई।

इस दौरान पूर्णानंद घाट पर उनकी पत्नी विमला पुत्री मधु दामाद बीसी पाठक के अतिरिक्त विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल, नगर निगम ऋषिकेश नगर निगम महापौर अनीता ममंगाई , डॉक्टर अनिल जोशी, देहरादून के जिलाधिकारी डॉ आशीष श्रीवास्तव ऋषिकेश के उप जिलाधिकारी वरुण चौधरी देहरादून के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक योगेंद्र यादव, नरेंद्र नगर की उप जिला अधिकारी युक्ता मिश्रा, परमार्थ निकेतन के स्वामी चिदानंद मुनि, उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत, कांग्रेस नेता जयेंद्र रमोला, मुनी की रेती नगर पालिका के पूर्व अध्यक्ष मनोज द्विवेदी सहित अन्य लोग भी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *