गंगा नदी की दो धाराओं के बीच बने टापू में फंसे 75 लोग और उनके जानवरों को एसडीआरएफ वा जल पुलिस ने समय रहते बचाया


हरिद्वार।  बालावाली क्षेत्र में गंगा नदी का जलस्तर अचानक से बढ़ने के कारण गंगा नदी के दो धाराओं के बीच में  बने टापू पर खेती कर रहे कुछ लोग तथा उनके जानवरों के फंसे होने की सूचना उप जिलाधिकारी लक्सर को पुलिस चौकी प्रभारी बालावाली थाना खानपुर, लक्सर को मिली। जिस कारण से वहां पर फंसे 75 लोग और उनके जानवरों  की जान आफत में आ गई। जिनका निकलना वहां से मुश्किल हो गया।


जिसकी सूचना आपदा कंट्रोल रूम हरिद्वार, पुलिस कंट्रोल रूम हरिद्वार तथा पुलिस कंट्रोल रूम रूड़की को  कर दी  गई। इस सूचना पर जल पुलिस तथा एसडीआरएफ की टीम को मय फोर्स तथा नाव व राफ्ट के साथ घटनास्थल पर रवाना कर दिया । अधिशासी अभियंता सिंचाई खंड रुड़की गंगनहर उत्तर प्रदेश को भी नदी का जलस्तर बढ़ने की सूचना देते हुए गंगा नदी के जल स्तर को नियंत्रित करने के लिए आवश्यक कार्यवाही के लिए सूचित किया गया।

राजस्व विभाग, पुलिस विभाग, अग्निशमन विभाग की टीम  भी मौके पर पहुंचे। त्वरित कार्यवाही करते हुए एसडीआरएफ तथा जल पुलिस के सहयोग से लगभग 75 से अधिक लोगों को तथा उनके छोटे जानवरों को रेस्क्यू कर सुरक्षित निकाला गया। उल्लेखनीय है कि सभी लोग उत्तर प्रदेश के निवासी हैं। जहां यह फंसे हुए थे, उसका अधिकांश क्षेत्र उत्तर प्रदेश की सीमा के अंतर्गत है। इसी तथ्य को मध्यनजर रखते हुए एसडीएम बिजनौर तथा एसडीएम नजीबाबाद को मौके से ही सूचना दी गई कि अपनी टीमों को सक्रिय कर दें।

मौके पर शैलेंद्र सिंह नेगी उप जिलाधिकारी लक्सर के साथ विवेक कुमार पुलिस क्षेत्राधिकारी लक्सर, प्रदीप चैहान प्रभारी निरीक्षक कोतवाली लक्सर, आशीष नेगी, प्रभारी थानाध्यक्ष खानपुर, आशीष शर्मा चैकी प्रभारी गोवर्धनपुर, उपेंद्र सिंह बिष्ट चैकी प्रभारी बालावाली, सिताब सिंह राजस्व निरीक्षक खानपुर, फैजान खान, सचिन कुमार, अंजू कुमार, पंकज कुमार राजस्व उपनिरीक्षक आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *