अल्टो कार अनियंत्रित होकर लगभग 500 मीटर नीचे गहरी खाई से होते हुए नदी में गिरी, कार में सवार सभी 6 व्यक्तियों की हुई मृत्यु 



ऋषिकेश 21 फरवरी।  अल्टो कार अनियंत्रित होकर लगभग 500 मीटर नीचे गहरी खाई से होते हुए यमुना नदी में दुर्घटनाग्रस्त होने से कार में सवार 6 व्यक्तियों की मृत्यु का समाचार प्राप्त हुआ है। 

एसडीआरएफ प्रभारी कविंदर सजवान ने बताया कि पुलिस थाना कैम्पटी द्वारा एसडीआरएफ टीम को सूचित किया गया कि यमुना पुल के पास एक आल्टो कार खाई में गिर गई है, जिसमे रेस्क्यू हेतु एसडीआरएफ टीम की आवश्यकता है।

उक्त सूचना पर एसडीआरएफ टीम मुख्य आरक्षी मनोज जोशी के संग टीम द्वारा आवश्यक रेस्क्यू उपकरणों के साथ तत्काल घटनास्थल के लिए रवाना हो गए।

एसडीआरएफ टीम को घटनास्थल पर पहुँचकर ज्ञात हुआ कि उक्त आल्टो वाहन (UK07 9607) जिसमे 06 लोग सवार थे, उत्तरकाशी से देहरादून की ओर आते समय अचानक अनियंत्रित होकर लगभग 500 मीटर नीचे गहरी खाई से होते हुए यमुना नदी में दुर्घटनाग्रस्त हो गया।

एसडीआरएफ टीम द्वारा त्वरित कार्यवाही करते हुए तत्काल खाई में रोप द्वारा उतरकर उक्त आल्टो वाहन तक पहुँचे । उक्त वाहन में सवार सभी 6 सवारियों 

1. प्रताप पुत्र श्यामसुख, उम्र 30 वर्ष, ग्राम मौताड़ मोरी,उत्तरकाशी
2. राजपाल पुत्र श्यामसुख, उम्र 28 वर्ष, ग्राम मौताड़ मोरी
3. जशीला पत्नी राजपाल, उम्र 25 वर्ष, ग्राम मौताड़ मोरी
4. वीरेंद्र पुत्र प्रेमलाल, 28 वर्ष, ग्राम मौताड़ मोरी
5. विनोद पुत्र शेरिया, उम्र 35 वर्ष, ग्राम मौताड़ मोरी
6. मुन्ना पुत्र रूपदास, 38 वर्ष, ग्राम देवती मोरी उत्तरकाशी

की मौके पर मृत्यु हो चुकी थी।

एसडीआरएफ टीम द्वारा स्थानीय पुलिस व राजस्व विभाग के साथ मिलकर सभी शवो को बॉडी बैग व स्ट्रेचर के माध्यम से वैकल्पिक मार्ग से होते हुऐ खाई से बाहर निकालकर मुख्य मार्ग तक पहुँचाया व अग्रिम कार्यवाही हेतु जिला पुलिस के सुपुर्द किया गया।

युवक ने संदिग्ध परिस्थितयों में लगाई फांसी , चिकित्सकों ने किया मृत घोषित , पुलिस ने कि जांच शुरू



ऋषिकेश 18 फरवरी। कोतवाली ऋषिकेश स्थित जाटव बस्ती मेंएक युवक ने संदिग्ध परिस्थितयों में फांसी लगा दी। परिजनो ने उसे पंखे की फंदे से नीचे उतरा। बेहोशी की हालत में उसे चिकित्सालय पहुंचाया, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

कोतवाली पुलिस के मुताबिक जाटव बस्ती निवासी संदीप (38 वर्ष) शुक्रवार रात कमरे में सोया था। शनिवार जब परिजनो ने उसे उठाने की कोशिश की तो संदीप के कमरे का दरवाजा नहीं खुला। जिस पर स्वजन ने आसपास के लोग की मदद दरवाजा खोला। कमरे के भीतर संदीप पंखे से फंदे पर लटका हुआ । परिजनो ने उसे नीचे उतारकर बेहोशी की हालत में राजकीय चिकित्सालय पहुंचाया जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

वरिष्ठ उप निरीक्षक उत्तम सिंह रमोला ने बताया कि हर पहलु से मामले की जांच की जा रही है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

गुरुद्वारा गुरु सिंह सभा ऋषिकेश प्रबंधक कमेटी के प्रधान चुनने को लेकर हुई मारा पीटी, पुलिस को करना पड़ा हस्तक्षेप,  संस्था के द्वारा आखिरकार चुना गया सरदार गोविंद सिंह को प्रबंधक कमेटी के प्रधान,  



ऋषिकेश 17 फरवरी। ऋषिकेश में रेलवे रोड स्थित गुरुद्वारा गुरु सिंह सभा मे कमेटी के प्रधान को लेकर हुऐ विवाद के बावजूद आखिरकार सरदार गोविंद सिंह को गुरुद्वारा सिंह सभा के प्रबंधक कमेटी के प्रधान के तौर पर चुन लिया गया है।

बताते चलें की सन 2020-21 से लगातार गोविंद सिंह जी गुरुद्वारा सिंह सभा के प्रबंधक कमेटी के प्रधान के रूप में रहते आए हैं।

जबकी संस्था के कुछ सदस्यों सरदार गुरमेल सिंह के पक्ष में  बलवंत सिंह, सरदार बूटा सिंह, जग्गा सिंह, भानु प्रताप सिंह,गुरमेद सिंह जस्सल का यह भी कहना है कि हर 3 साल में चुनाव की प्रक्रिया होती है । जिसके तहत सभी सार संगत द्वारा सरदार गुरमेल सिंह को चुना गया है।  उनका यह आरोप था कि पूर्व से प्रधान पति के रूप में सरदार गोविंद सिंह के द्वारा गुरुद्वारा का कोई भी हिसाब किताब नहीं दिया जाता है और उनके द्वारा पक्षपात व्यवहार भी किया जाता है ।   

तथा उनके द्वारा यह भी आरोप लगाया गया है कि गुरुद्वारे की आय  व्यय के खर्चे को लेकर गुरूद्वारा सिंह सभा पर 25 से 30 लाख रुपए के हानि भी दिखाई गई है।

अतः सरदार गुरमेल सिंह को 14 दिसंबर  2023 को सभी  सार संगत द्वारा गुरुद्वारा सिंह सभा का प्रबंधक कमेटी के प्रधान  के रूप में चुन लिया जाता है जिनका कार्यकाल 1 जनवरी 2024 से शुरू किया जाता है। जिसमे सरदार गुरमेल सिंह के पक्ष में  बलवंत सिंह, सरदार बूटा सिंह, जग्गा सिंह, भानु प्रताप सिंह,गुरमेद सिंह जस्सल, अमरजीत सिंह काफी संख्या में लोगों ने रजिस्टर में हस्ताक्षर की सहमति से चुना गया था।

परंतु सरदार गोविंद सिंह के पक्ष में हुई सार संगत द्वारा 4 जनवरी 2024 को सरदार गोविंद सिंह को पुनः नया प्रबंधक कमेटी के प्रधान के रूप में चुन लिया जाता है जिसके अंतर्गत गुरुद्वारा सिंह सभा के लॉकर को हैंड  ओवर करने पर 15 फरवरी 2024 को नगर के गणमान्य लोगों के द्वारा बैठक रखी गई, जिस पर लॉकर के ताले को खुलवाने को लेकर सहमति बनाने की कोशिश की गई परंतु उसको लेकर विवाद उत्पन्न हो गया जिस पर पुलिस को भी बुलाना पड़ा ।

 इसके उपरांत 17 फरवरी 2024 को गुरुद्वारा गुरु सिंह सभा ऋषिकेश में आम पब्लिक व सार संगत की बैठक हुई जिस बैठक में शहर के प्रतिष्ठित और गण मान्य नागरिक सम्मिलित हुए।

परंतु बैठक के दौरान दोनों पक्ष में प्रधान  को चुनने के लिए विवाद उत्पन्न हो गया जिसमें दोनों पक्ष की ओर से महिलाएं द्वारा हाथापाई भी हो गई जिसको लेकर गुरुद्वारा कमेटी के सदस्य सरदार परमजीत सिंह की पत्नि राजेंद्र कोर ढंग और मोनिका ने आरोप लगाया कि सरदार बूटा सिंह की पत्नी परमजीत कौर ने उनके ऊपर हाथ उठाया। जिसको लेकर पुलिस द्वारा दो लोगों के खिलाफ नाम जब रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है।  पूरे घटनाक्रम को लेकर पुलिस को बुलाना पड़ा तथा पुलिस की हस्तक्षेप से माहौल को शांत किया गया।

 पूरे घटनाक्रम के बावजूद सभी संगत ने सर्व समिति से सरदार गोविंद सिंह को गुरुद्वारा गुरु सिंह सभा ऋषिकेश का प्रधान चुना गया और उससे पहले की किसी भी प्रबंधक कमेटी को सर्वसम्मति से निरस्त व खारिज कर दिया गया ।

 उक्त आमसभा में  गोविंद सिंह के पक्ष में बिशन खन्ना , भगतराम कोठरी, सूरज गुलाटी, सतबीर तोमर, हरीश अरोड़ा, अशोक अग्रवाल ,दिनेश कोठारी, संदीप मल्होत्रा, गोपाल नारंग, सरदार मंगा सिंह, सरदार निर्मल सिंह, सरदार परमजीत सिंह, हरदेव पनेसर, अमरजीत सिंह नीलम खुराना, के के लांबा , योगेश कालरा,भारत भूषण, अशोक अग्रवाल  एवं सुभाष कोहली,  नीलम खुराना इत्यादि मौजूद थे।

स्विफ्ट कार का स्टेरिंग फेल होने से गिरी गहरी खाई में, चार लोग हुए गंभीर रूप से घायल



ऋषिकेश ,16 फरवरी । जनपद पौड़ी गढ़वाल के ‌लक्ष्मण झूला थाना अंतर्गत एक स्विफ्ट वाहन के गट्टू घाट के पास स्टेरिंग फेल हो जाने के कारण गहरी खाई में गिर जाने के परिणाम स्वरूप चार लोग गंभीर रूप से घायल हो गए जिसकी सूचना पर पहुंची, पुलिस ने रेस्क्यू कर सभी घायलों को उपचार हेतु एम्स भेजा है।

लक्ष्मण झूला थाना प्रभारी रवि सैनी ने बताया कि शुक्रवार की दोपहर 11.51 बजे पुलिस कंट्रोल रूम पौड़ी द्वारा बताया गया कि गट्टू घाट के पास एक चार पहिया गाड़ी नीचे गिर गई है। जिसमें तीन-चार लोग सवार हैं तथा गंभीर रूप से घायल है।

सूचना पर थाना लक्ष्मण झूला से वरिष्ठ वरिष्ठ उपरीक्षक अनिल चौहान के नेतृत्व में पुलिस की आपदा टीम को रवाना किया गया मौके पर पहुंचने पर गट्टू घाट से 10 मीटर पहले नीलकंड रोड पर सड़क से करीब 30 मीटर नीचे स्विफ्ट कार जिसका नंबर RJ14CZ 5507 गिरी थी, जिसमें सवार चार लोगों मोहित पुत्र महेंद्र सिंह निवासA-49 राज बाग कॉलोनी दिल्ली उम्र 25 वर्ष जो गाड़ी चला रहा था। जिसको हल्की-फुल्की चोटे हैं।

प्रशांत पांडे पुत्र गोपाल पांडे निवास C12A महेश नगर जयपुर उम्र 34 वर्ष जिसकी चेस्ट तथा कमर में गुम चोट है, अंजली पांडे पुत्री गोपाल पांडे निवासी C 12 A महेश नगर जयपुर उम्र 25 वर्ष चेस्ट मे गुम चोट है। श्रीमती उर्मिला पांडे पत्नी गोपाल पांडे C12 A महेश नगर जयपुर उम्र करीब 55 वर्ष हल्की-फुल्की चोटे हैं, को गाड़ी से बाहर निकाल कर घायलों को 108 एंबुलेंस से उपचार हेतु एम्स अस्पताल भिजवाया गया है ।

सभी का एम्स अस्पताल ऋषिकेश में उपचार करवाया जा रहा है, परिजनों को सूचना दी जा चुकी है जानकारी करने पर चालक मोहित ने बताया कि अचानक मोड पर गाड़ी का स्टेरिंग न कटने के कारण सड़क से नीचे गिर गई थी ।

बैराज से अज्ञात व्यक्ति का शव हुआ बरामद, पुलिस ने करी शिनाख्त शुरु



ऋषिकेश, 05 फरवरी ।  लक्ष्मण झूला थाना क्षेत्र अंतर्गत ‌पशुलोक बैराज से एक पुरुष का शव‌‌ बरामद कर एस डी आर एफ टीम ने शव लक्षमण झूला पुलिस को सुपर्द‌ किया गया है।

सोमवार को एसडीआरएफ के प्रभारी कविंद्र सजवाण ने बताया कि सोमवार की दोपहर में सूचना प्राप्त हुई कि बैराज जलाशय में एक शव तैर रहा है जिसकी सूचना पर पहुंची, एसडीआरएफ की टीम ने शव को बैराज से निकाल कर लक्षमण झूला पुलिस को सुपर्द‌ किया।

उन्होने बताया कि शव एक पुरष का है जिसकी उम्र 40 से 45 के करीब है जोकि 10 से 15 दिन पुराना प्रतीत हो‌‌रहा है, जिसकी शिनाख्त के लिए नजदीकी सभी थानों को सूचित कर दिया गया है। 

निर्माणाधीन होटल की 7 वी मंजिल की दीवार बगल में बने स्कूल पर गिरी, स्कूल का एरिया हुआ क्षतिग्रस्त, बाल बाल बचे स्कूल में पढ़ रहे 230 बच्चे, स्कूल प्रशासन ने होटल के निर्माण को अवैध बता पुलिस से मुकदमा दर्ज करने की करी शिकायत



ऋषिकेश 3 फरवरी। निर्माणाधीन एक होटल की 7वी मंजिला की दीवार बगल में ही बने एक स्कूल के प्रांगण में गिर जाने से स्कूल की रसोई और डायनिंग एरिया बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया है। जिसको लेकर स्कूल प्रशासन द्वारा स्कूल में पढ़ रहे बच्चों की सुरक्षा को लेकर होटल के चल रहे निर्माण को अवैध बताते हुए पुलिस में इसकी शिकायत दर्ज करा उचित कार्रवाई की मांग की है।

मुनी की रेती थाना प्रभारी रितेश शाह ने बताया कि आज सुबह रमन्ना सेवी समिति के द्वारा संचालित विद्यालय के द्वारा पुलिस थाने में शिकायत दी गई जिसमें विद्यालय प्रशासन द्वारा बताया कि आज दिनांक 03 फरवरी को लगभग सुबह 6:56 पर निर्माणाधीन होटल अंतलिया (जो कि गंगा से 200 मीटर के दायरे में आता हैं। उसकी 7 वी मंजिल पर बन रही दीवार उनके स्कूल के प्रांगण में आ गिरी।

गनीमत यह रही कि उस समय स्कूल के सभी बच्चे स्कूल के अंदर की तरफ़ मौजूद थे जिस कारण बच्चों को किसी तरह की हानि नहीं पहुंची।क्यूँकि उस समय बच्चो के नाश्ते का समय था कुछ बच्चे और स्टाफ रसोई के अन्दर थे । परंतु होटल की दीवार गिरने के कारण स्कूल की रसोई और डाइनिंग एरिया बुरी तरीके से क्षतिग्रस्त हो गया हैं।
स्कूल प्रशासन द्वारा बच्चों की सावधानी को देखते हुए स्कूल को फिलहाल बंद कर दिया गया है।

उन्होने स्कूल की बगल में बन रहे होटल अंतलिया को अवैध बताते हुए होटल की 7 वी मंजिल की बन रही दीवार को भी अवैध निर्माण बताया है। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि उन्होंने इस संबंध में होटल के खिलाफ पहले भी कई बार शिकायत कर चुके हैं। परंतु इसके बावजूद भी होटल अंतलिया का निर्माण अवैध रूप से चल रहा है।

उनका यह भी कहना है कि स्कूल में पढ़ रहे 230 बच्चों के भविष्य को देखते हुए आगे भी होटल का अवैध निर्माण यदि ऐसे ही चलता रहा तो ओर उस दौरान यदि कोई दुर्घटना घटित होती है तो इसके जिम्मेदारी कौन लेगा?

उन्होंने पुलिस प्रशासन से मांग की है कि वह स्कूल की बगल में बन रहे होटल के अवैध निर्माण पर उचित से उचित कार्रवाई करते हुए मुकदमा दर्ज करे।

वन विभाग की गाड़ी के हादसे में गायब हुई महिला बॉर्डन की खोज में शक्ति नहर का पानी बंद कर एसडीआरफ़ ने चलाया सर्च अभियान ‌ गाड़ी के टायर फटने से हुई पेड़ में टक्कर के परिणाम स्वरुप चार की हुई थी मौत,  चार अन्य का एम्स अस्पताल में चल रहा है उपचार  मुख्यमंत्री धामी सहित वन मंत्री ने किया मृतकों के प्रति गहरा दुख व्यक्त



ऋषिकेश , 0 9 जनवरी ‌।‌ पौड़ी जिले के राजाजी नेशनल पार्क अंतर्गत चीला रेंज में सोमवार की शाम को वन विभाग की जीप का ‌शक्ति नहर के किनारे टायर फट जाने के बाद वन विभाग कर्मचारियों की गाड़ी पेड़ से टकरा जाने के परिणाम ‌स्वरुप‌ हादसे में चार कर्मचारियों की मौत हो जाने के साथ जीप में सवार 05 घायल और एक महिला वार्डन के लापता होने पर पुलिस और एसडीआरएफ की टीम द्वारा शक्ति नहर में रेस्क्यू अभियान चलाया जा रहा है। उक्त घटना पर प्रदेश के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी और वन मंत्री सुबोध उनियाल के साथ संपूर्ण उत्तराखंड के वन कर्मचारियों ने भी गहरा दु‌ख व्यक्त किया है। हादसे को गंभीरता से लेते हुए प्रशासन ने चीला‌ शक्ति नहर में पानी भी कम करा दिया है। लेकिन अभी तक लापता जीव प्रतिपालक का कोई सुराग नहीं लग सका है। कोहरा और अधिक ठंड होने के कारण नहर में लापता जीव प्रतिपालक की खोजबीन करना मुश्किल हो रहा है। वहीं घायलों के परिजन एम्स परिसर में पहुंच गए है।

एम्स ऋषिकेश के अनुसार

सोमवार की शाम चीला मार्ग पर हुई दुर्घटना के घायलों को एम्स के ट्रॉमा इमरजेंसी में भर्ती किया गया है। घायलों में से चार लोगों ने ट्रॉमा इमरजेंसी पहुंचने से पहले ही दम तोड़ दिया। जबकि इलाज हेतु भर्ती किये गए कुल 5 घायलों में से दो लोगों की हालत नाजुक बनी हुई है।
चीला मार्ग पर हुई दुर्घटना के घायलों को एम्स के ट्रॉमा विभाग में भर्ती किया गया है। यह जानकारी देते हुए एम्स के जनसंपर्क अधिकारी संदीप कुमार सिंह ने बताया कि एम्स में कुल नौ लोगों को पहुंचाया गया था, जिनमें से अस्पताल पंहुचने से पहले ही 4 लोग ब्राउड डेड पाए गए हैं। उन्होंने बताया कि ट्रॉमा इमरजेंसी से प्राप्त जानकारी के अनुसार मृतकों में शैलेश उम्र 42 वर्ष, प्रमोद उम्र 43 वर्ष, सैफ अली उम्र 25 वर्ष और कुलराज उम्र 35 साल ( सभी चीला रेंज से सम्बंधित ) शामिल हैं। जबकि घायलों में अमित सेमवाल 41 वर्ष, अश्विन बीजू उम्र 24 वर्ष, अंकुश उम्र 40 वर्ष, राकेश नौटियाल उम्र 50 वर्ष और हिमांशु उम्र 36 वर्ष शामिल है। घायलों में से अमित सेमवाल और अश्विन बीजू की हालत नाजुक बनी हुई है।

परिवार जन एम्स पहुंचकर ‌अपने परिजनों का हाल-चाल जान रहे हैं। मृतकों के परिजनों को सूचना दे दी गई है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी और वन मंत्री सुबोध उनियाल ने पूरी घटना के बारे में जानकारी ली।

नहर में लापता जीव प्रतिपालक की खोजबीन जल्द किए जाने वह एम्स में भर्ती सभी घायलों को अच्छे से अच्छा उपचार दिए जाने के लिए कहा गया है

एसडीआरएफ के अनुसार–

ऋषिकेश- चीला मार्ग पर वाहन हुआ दुर्घटनाग्रस्त, एसडीआरएफ चला रही सर्च ऑपरेशन

सोमवार की शाम को एसडीआरएफ को सूचना प्राप्त हुई थी कि ऋषिकेश चीला मार्ग पर एक वाहन टायर फटने से अनियंत्रित होकर दुर्घटनाग्रस्त हो गया है।
उक्त सूचना पर एसडीआरएफ टीम मय आवश्यक रेस्क्यू उपकरणों के तत्काल घटनास्थल हेतु रवाना हुई।

उक्त वाहन जंगल सफारी फारेस्ट विभाग का है जिसमें10 व्यक्ति वाहन में सवार थे। जिसमें से 04 व्यक्तियों की मृत्यु हो गयी । जबकि 05 व्यक्ति घायल और 01 लापता है।
उक्त दुर्घटना में आलोकी (वार्डन राजा जी नेशनल पार्क चीला) लापता है। लापता की तलाश में एसडीआरएफ द्वारा सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है। दुर्घटना में मृतकों और घायलों को एम्स अस्पताल ऋषिकेश में लाया गया है। पुलिस द्वारा उक्त सम्बन्ध में आवश्यक कार्यवाही की जा रही है।

एसडीआरएफ टीम द्वारा मंगलवार की सुबह से ही दोबारा घटनास्थल पर पहुँचकर उक्त लापता लोगों की खोजबीन हेतु संभावित स्थानों पर गहन सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है।

चीला बैराज रोड पर हुई दर्दनाक दुर्घटना  जीप का टायर फटने से वन विभाग रेंजर दरोगा सहित 4 लोगों की मौत, महिला वार्डन सहित दो लापता, जीप में कुल 10 लोग थे सवार, अन्य 4 लोगों का एम्स में उपचार जारी



ऋषिकेश ,08 जनवरी। लक्ष्मण झूला थाना अंतर्गत चीला बैराज रोड पर एक जीप का टायर फट जाने के परिणाम स्वरूप जीप के पेड़ से टकरा जाने पर चीला वन विभाग रेंजर, वन दरोगा सहित  4लोगों की घटना स्थल पर मौत हो जाने का सनसनीखेज समाचार मिला है।

जीप में 10 लोग सवार बताए जा रहे है। जिसमें एक महिला वार्डन सहित दो लापता बताए जा रहे हैं जबकि चार अन्य को घायल अवस्था में उपचार के लिए एम्स अस्पताल ऋषिकेश भेजा गया है। 

मिली जानकारी के अनुसार वन अधिकारी चीला बैराज से ऋषिकेश की और जीप से आ रहे थे कि बैराज से ढाई सौ मीटर ऋषिकेश की और आते हुए जीप का टायर फट गया, और जीप अनियंत्रित होकर पेड़ से जा टकराई, जिसकी सूचना पर थाना लक्ष्मण झूला पुलिस मौके पर पहुंच गई है।

जिन्होंने जीप के अंदर से ‌ चीला रेंज के रेंज अधिकारी शैलेश घिल्ड़ियाल, ‌वन दरोगा‌, सैफ अली डिप्टी रेंजर प्रमोद ध्यानि,कुलराज सिंह को बाहर निकाला जिनकी घटना स्थल पर मौत हो गई।

जबकि एक महिला वार्डन अलोकी सहित दो लोग लापता हैं आशंका जताई जा रही है की टक्कर लगने के बाद महिला वार्डन आलोकी  और अन्य एक गंगा नदी में गिर गए हैं जबकि अन्य चार को घायल अवस्था में उपचार हेतु एम्स अस्पताल भेजा गया है।

। जिनकी शिनाख्त की जा रही है। जीप में कुल 10 लोग सवाल बताए जा रहे हैं।

ऋषिकेश आस्था पथ 72 सीढ़ी के समीप संदिग्ध परिस्थिति में गंगा से व्यक्ति का शव हुआ बरामद, शव की हुई शिनाख्त 



ऋषिकेश,03जनवरी । ऋषिकेश कोतवाली की त्रिवेणी घाट पुलिस चौकी अंतर्गत आस्था पथ के समीप पुलिस ने देहरादून निवासी एक व्यक्ति का शव‌‌ बुधवार की‌ सुबह गंगा से बरामद किया है।

शव कुछ घंटे पुराना बताया जा‌‌ रहा है,पुलिस ने मृतक के परिजनों को सूचित कर दिया है।आपदा प्रबंधन दल के प्रभारी बिशन सिंह खड़का ने बताया कि बुधवार की सुबह आस्था पथ बहत्तर सीढ़ी के समीप एक व्यक्ति का शव देखा गया।

शव को बाहर निकाला गया। इस व्यक्ति की जेब से मिले ड्राइविंग लाइसेंस के अनुसार उसकी पहचान शेखर चंद्र पांडे (42 वर्ष) पुत्र जगदीश चंद्र पांडे, निवासी 564 लेन नंबर 05, वैभव विहार, नवादा देहरादून के रूप में की गई है।

मृतक की जेब से पर्स में कुछ नगदी और कार की चाबी भी मिली है।

दीवार गिरने से दर्जन भर मजदूर दबे मलबे में, 6 मजदूरों के शव हुए बरामद, जबकि अन्य 3 मजदूरों की हालत गंभीर



26 दिसंबर। ईट भट्ठे में काम कर रहे करीब दर्जन भर मजदूर दीवार गिरने से मलवे में दब गए जिनमें से 6 मजदूरों के शव मलबे में से बरामद हो चुके हैं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार हरिद्वार जनपद के अंतर्गत रुड़की में मंगलवार सुबह दर्दनाक हादसा हो गया।मंगलौर कोतवाली के लहबोली गांव में ईंट भट्टे की दीवार अचानक गिर गई। इस दौरान आधे दर्जन से ज्यादा मजदूर मलबे के नीचे दब गए। जिसमे से अभी तक 6 शव मलबे से निकाले जा चुके हैं।

मिली जानकारी के अनुसार, सुबह ईंट पकाने के लिए चिमनी में ईंट भरते समय हादसा हुआ। मजदूर काम कर ही रहे थे कि दीवार अचानक भरभराकर गिर गई। इससे पहले कोई कुछ समझ पाता दीवार के पास खड़े मजदूर मलबे में दब गए।फिलहाल जेसीबी से मलबा हटाने का काम चल रहा है। एसपी देहात समेत पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं।

मंगलौर कोतवाली प्रभारी प्रदीप बिष्ट ने बताया कि अब तक 6 शव बाहर निकाले जा चुके हैं। जबकि अन्य मलबे में दबे तीन मजदूरों की हालत गंभीर बनी है, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

इनमें से तीन मजदूर लहबोली गांव, एक मजदूर मुजफ्फरनगर और अन्य स्थानीय गांव के थे।राहत व बचाव कार्य जारी है, स्थानीय प्रशासन के आला अधिकारी भी मौके पर मौजूद हैं ।