गत एक महा से फरार चल रहे नाबालिक का अपहरण कर दुष्कर्म करने वाले आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार – पुलिस ने नाबालिक को पूर्व में ही कर लिया था सकुशल बरामद, 



ऋषिकेश, 15 फरवरी । ऋषिकेश थाना पुलिस ने विगत 16 जनवरी को ऋषिकेश क्षेत्र से एक नाबालिक का अपहरण कर उसके साथ दुराचार किए जाने के आरोपी को एक महीने बाद लखनऊ से गिरफ्तार कर लिया है। जबकि पुलिस ने नाबालिक को पूर्व में ही सकुशल बरामद‌कर लिया था, तभी से आरोपी फरार‌ था।

ऋषिकेश कोतवाली के वरिष्ठ उप निरीक्षक उत्तम सिंह रमोला ने बताया कि विगत17 जनवरी 2024 को वादी के द्वारा कोतवाली ऋषिकेश में एक लिखित तहरीर दी गई थी। कि उनकी नाबालिक पुत्री विगत 16 जनवरी 2024 को करीब 1:00 बजे दिन में घर से अपने स्कूल की फाइल लेने बाजार के लिए निकली थी, जो अब तक घर वापस नहीं आई है। प्राप्त लिखित तहरीर के आधार पर कोतवाली ऋषिकेश में विभिन्न धाराओं में मुकदमादा जी किया गया था।

घटना की गंभीरता के दृष्टिगत उच्च अधिकारीगणों को सूचना दे कर प्रभारी निरीक्षक कोतवाली ऋषिकेश ने नाबालिक की तलाश हेतु एक टीम का गठन किया । गठित टीम ने सीसीटीवी कैमरे की फुटेज का अवलोकन कर उपरोक्त नाबालिक को दीपक यादव पुत्र सुखराम निवासी वादे का पुरवा थाना मवई जिला अयोध्या उत्तर प्रदेश अपने साथ बहला फुसलाकर लखनऊ उत्तर प्रदेश ले गया है। इसके पश्चात नाबालिक की सकुशल बरामदगी तथा आरोपी की गिरफ्तारी हेतु गठित टीम लखनऊ उत्तर प्रदेश रवाना हुई जहां से 20 जनवरी 2024 को नाबालिक उपरोक्त को सकुशल बरामद किया गया था तथा अभियुक्त मौके से पहले ही फरार हो गया था, नाबालिक से पूछताछ के आधार पर ज्ञात हुआ कि आरोपी के द्वारा बहला फुसलाकर नाबालिक का अपहरण करने के पश्चात उसके साथ दुष्कर्म भी किया गया है। इसके बाद आरोपी के विरूद्ध पोक्सो अधिनियम की बढ़ोतरी की गई।

नाबालिक को सकुशल उसके परिजनों के सुपुर्द कर आरोपी की गिरफ्तारी हेतु लगातार प्रयास किया गया।जिसे 14 फरवरी 2024 को को लखनऊ उत्तर प्रदेश से गिरफ्तार किया गया है।

युवती के साथ अश्लील बातें कर छेड़छाड़ करने तथा धारदार हथियार दिखाकर जान से मारने की धमकी देने वाले आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार‌



ऋषिकेश, 11 फरवरी । ऋषिकेश कोतवाली क्षेत्र में एक युवती से दुर्व्यवहार कर धारदार हथियार दिखाकर जान से मारने की धमकी देने वाले आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार‌ कर लिया ‌है।

कोतवाली वाली के एस‌एस आई उत्तम सिंह रमोला ने बताया कि शनिवार को कोतवाली ऋषिकेश में पीड़ित ने एक लिखित तहरीर देते हुए कहा था कि उनके मोहल्ले में रहने वाला जोगेश उर्फ नागेश पुत्र अशोक कुमार के ने उनके साथ अश्लील बातें करने, छेड़छाड़ करने तथा धारदार हथियार दिखाकर जान से मारने की धमकी देने के संबंध में दी गई प्राप्त लिखित तहरीर के आधार पर तत्काल कोतवाली ऋषिकेश में अभियोग पंजीकृत कर विवेचना प्रारंभ की गई।

मामले की गंभीरता के दृष्टिगत उच्च अधिकारीयों को सूचना प्रदान कर प्रभारी निरीक्षक कोतवाली ऋषिकेश के द्वारा आरोपी की गिरफ्तारी हेतु एक टीम का गठन किया गया। गठित टीम ने रविवार को गली नंबर 29 शिवाजी नगर से घटना से संबंधित अभियुक्त को गिरफ्तार किया गया तथा मौके से उसके पास से एक पाठल (दरांती) बरामद की गई।

जिसका नाम जागेश्वर उर्फ नागेश पुत्र अशोक कुमार निवासी गली नंबर 29 शिवाजी नगर ऋषिकेश
मूल निवासी ग्राम सिरधनी बिजनौर उत्तर प्रदेश बताया गया है।

अवैध हथियार सहित दो युवको को पुलिस ने किया गिरफ्तार, पूर्व में भी आपराधिक मामले थे दर्ज



ऋषिकेश 9 फरवरी। ऋषिकेश से सटे क्षेत्र थाना रानीपोखरी में पुलिस द्वारा 02 व्यक्ति को अवैध असलो के साथ गिरफ्तार किया गया है ।

रानी पोखरी थाना अध्यक्ष संदीप कुमार ने बताया कि बृहस्पतिवार की रात्रि 01:15  बजे 02 व्यक्ति को 1.अभियुक्त क्रांता पुत्र मौसम नाथ निवासी घोसीपुरा सपेरा बस्ती थाना पथरी हरिद्वार उम्र- 24 वर्ष , 2-महन्त नाथ पुत्र कल्लू नाथ निवासी सपेरा बस्ती घोसी पुरा थाना –पथरी हरिद्वार उम्र- 42 वर्ष को जाखन पुल के पास सूर्यधार रोड भोगपुर से गिरफ्तार किया गया। जिनके कब्जे से एक अवैध देशी कट्टा मय 05 जिंदा कारतूस व एक अवैध खुखरी व वह कुछ अन्य अवैध सामान बरामद किए गए हैं।

जिनके विरुद्ध थाना रानीपोखरी पर संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।  आरोपियों की जांच करने पर पता चला कि उनके खिलाफ पहले से भी अन्य आपराधिक मामले दर्ज है। 

जिसकी विवेचना उ0नि0 रघुवीर कप्रवाण द्वारा की जा रही है जिन्हे आज समय से माननीय न्यायालय के समक्ष पेश किया जा रहा है ।

तीर्थनगरी में एमडीडीए ने तहसील प्रशासन के साथ मिल फिर चलाया सीलिंग का चाबुक, ऋषिकेश सहित विस्थापित मे निर्माण को किया सील तो वही रायवाला में करीब 7 बीघा अवैध प्लाटिंग के खिलाफ भी की कार्रवाई



ऋषिकेश 5 फरवरी। मसूरी देहरादून विकास प्राधिकरण द्वारा अवैध निर्माण और अवैध तरीके से की गई प्लाटिंग को लेकर लगातार रूप से सख्त रवैया अपनाता जा रहा है उसी कड़ी में आज ऋषिकेश तथा आसपास क्षेत्र में हो रही अवैध प्लाटिंग और अवैध निर्माण को लेकर मसूरी-देहरादून विकास प्राधिकरण (एमडीडीए) ने सख्ती दिखाई है।

सोमवार को एमडीडीए की टीम ने पुलिस बल के साथ रायवाला में करीब छह से सात बीघा भूमि पर की गई अवैध प्लाटिंग को ध्वस्त किया। वहीं एमडीडीए तथा तहसील प्रशासन ने ऋषिकेश तथा विस्थापित क्षेत्र में दो अवैध निर्माण भी सील किए हैं।

ऋषिकेश नगर तथा ग्रामीण क्षेत्रों में लगातार अवैध निर्माण और अवैध प्लाटिंग की शिकायतें सामाने आती हैं। एमडीडीए की ओर से समय-समय पर सीलिंग की कार्यवाही भी की जाती है, मगर विभाग के शिथिल रवैये के कारण भवन निर्माण कर्ता फिर से विभाग की आंखों में धूल झोंककर निर्माण कार्यों को अंजाम दे जाते हैं।

ग्रामीण क्षेत्र में सबसे अधिक मामले अवैध प्लाटिंग के सामने आते हैं। जहां कृषि भूमि पर बड़े पैमाने में लैंड यूज बदले और ले आउट पास कराए प्लाटिंग की जा रही है। जबकि नगर क्षेत्र में बिना मानचित्र पास कराए अवैध निर्माण भी धड़ल्ले से जारी हैं। कई मामले तो ऐसे भी हैं, जहां सीलिंग की कार्रवाई के बाद भी निर्माण कार्य किए जा रहे हैं।

सोमवार को उप जिलाधिकारी व एमडीडीए के उप सचिव योगेश मेहरा के आदेश पर एमडीडीए के टीम ने पुलिस फोर्स के साथ क्षेत्र में ताबड़तोड़ कार्रवाई की। टीम ने रायवाला ग्रामसभा में एक करीब सात बीघा भूमि पर की गई अवैध प्लाटिंग को ध्वस्त किया।

एमडीडीए के सहायक अभियंता सुरजीत सिंह रावत ने बताया कि गोविंद पांडेय की ओर से कृषि भूमि पर की गई इस प्लाटिंग का कोई ले-आउट विभाग की ओर से पास नहीं कराया गया था। इस प्लाटिंग पर कुछ भवनों का निर्माण भी किया जा रहा था, जिन्हें विभाग की ओर से पूर्व में ही नोटिस भी दिए गए थे। उन्होंने बताया कि उक्त अवैध प्लाटिंग में किए गए सीमांकन को जेसीबी की मदद से ध्वस्त कर दिया गया है।

उन्होंने बताया कि इसके अलावा हरिद्वार मार्ग पर श्री भरत मंदिर इंटर कालेज के पीछे मुख्य मार्ग पर  भरत मंदिर ट्रस्ट के नाम से कुछ निर्माण कराया जा रहा था, जिसका मानचित्र पास नहीं था और ना ही इस निर्माण की कोई अनुमति दी गई थी। इस निर्माण को भी सील कर दिया गया है। इसके अलावा विस्थापित क्षेत्र गली नं. 13 में उमेश सैनी द्वारा भी एक अवैध निर्माण कराया जा रहा था, जिसे सील कर दिया गया है।

टीम में सहायक अभियंता सुरजीत सिंह रावत, अवर अभियंता संजय जगुड़ी, सुपरवाइजर राकेश कुमार, मेघराज व नायब तहसीलदार जीडी जोशी शामिल रहे।

होटल में अवैध रूप से ग्राहकों को शराब पिलाने के आरोप में होटल संचालक हुआ गिरफ्तार,कोल्ड ड्रिंक्स की बोतलों में शराब भरकर परोसी जा रही थी ग्राहकों को



ऋषिकेश 1 फरवरी। मुनि की रेती पुलिस द्वारा तपोवन क्षेत्र में अवैध रूप से शराब पिलाने वाले होटल संचालकों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करते हुए एक होटल संचालक को गिरफ्तार किया गया है।

मुनि की रेती थाना प्रभारी रितेश शाह ने बताया कि टिहरी गढ़वाल एएसपी के निर्देशानुसार  जनपद में अवैध रूप से शराब पिलाने वाले रेस्टोरेंट/ढाबा मालिकों व कैम्प संचालकों के विरुद्ध चलाये जा रहे अभियान के अन्तर्गत मुनि की रेती पुलिस द्वारा तपोवन क्षेत्र में होटल/रेस्टोरेंट को चेक किया गया। जिस पर एक होटल संचालक द्वारा अवैध रूप से होटल में आने वाले ग्राहकों को शराब परोसने के आरोप में कड़ी कार्रवाई करते हुए होटल संचालक को गिरफ्तार किया गया है।

मुनि की रेती थाना प्रभारी रितेश शाह ने बताया कि तपोवन क्षेत्र के होटलों में लगातार शराब पिलाने की शिकायतों  मिल रही थी । इसी क्रम में Hotel unplan के संबंध में पूर्व में भी कई बार शिकायत प्राप्त हो चुकी थी जिसमें चेकिंग करने के उपरांत कोई शराब बरामद नहीं हुई । लगातार मिल रही शिकायतों पर रेकी हेतु सादे वस्त्रों में 03 टीमों का गठन किया गया। कई बार रेकी करने के उपरांत पाया गया कि उक्त होटल संचालक द्वारा शराब की बोतलों के स्थान पर शराब को कोल्ड ड्रिंक्स की बोतल में भरकर उन्हें अपने ग्राहकों को परोसा जा रहा था।होटल में होटल मैनेजर मिहुल पुत्र विशाल निवासी KW सृष्टि एफ टॉवर राज नगर एक्सटेंशन थाना सिंघानी, गाजियाबाद हाल निवासी होटल अनप्लैंड लक्ष्मण झूला रोड तपोवन मुनि की रेती (उम्र 24 वर्ष) द्वारा होटल अनप्लेंड में अवैध रूप से शराब पिलाई जा रही थी व परोसी जा रही थी। होटल संचालक होटल में ग्राहकों की डिमांड होने पर वॉकी- टॉकी के माध्यम से होटल के गोदाम से शराब की डिलीवरी ग्राहकों की टेबल तक करते हैं।

पुलिस द्वारा उक्त व्यक्ति से पूछताछ करने पर शराब पिलाने का लाइसेंस न होने के कारण मिहुल पुत्र विशाल निवासी KW सृष्टि एफ टॉवर राज नगर एक्सटेंशन थाना सिंघानी, गाजियाबाद हाल निवासी होटल अनप्लैंड लक्ष्मण झूला रोड तपोवन मुनि की रेती (उम्र 24 वर्ष) के विरुद्ध संबंधित धारा में मुकदमा दर्ज कर लिया  गया। इसके अतिरिक्त नियमों का उल्लंघन करने के कारण अन्य होटल/रेस्टोरेंट संचालकों के विरुद्ध 83 व 81 पुलिस एक्ट के अंतर्गत कार्रवाई करते हुए जुर्माना भी वसूला गया।

थाना प्रभारी रितेश शाह ने बताया कि उक्त चेकिंग अभियान आगे भी जारी रहेगा। उन्होने सभी होटल/रेस्टोरेंट व ढाबा संचालकों से अपील भी की गई है कि बिना लाइसेंस के अवैध रूप से शराब न परोसी जाए।

विधवा महिला को शादी का झांसा देकर दुष्कर्म करने वाले आरोपी को न्यायालय ने दोष मुक्त करार दिया



ऋषिकेश, 0 1 फरवरी‌।ऋषिकेश प्रथम अपर सत्र न्यायाधीश ने विधवा महिला को शादी का झांसा देकर दुष्कर्म करने के आरोपी को दोषमुक्त करार दिया । आरोपी जमानत पर रिहा था,

बताया गया कि पिछले वर्ष 3 जून को एक महिला ने ऋषिकेश कोतवाली में आरोपी के विरोध‌ में शिकायत दर्ज करवाई थी, शिकायत में महिला ने बताया था कि आरोपी युवक निवासी पिटकुल उस पर बार-बार शादी के लिए दबाव डाल रहा था जबकि वह शादी के लिए इंकार कर रही थी।

उसके बावजूद आरोपी युवक ने दबाव बनाकर उससे शादी का झांसा देकर उसके साथ शारीरिक संबंध बनाए लेकिन संबंध बनाने के बाद वह हर बार शादी की बात टालता रहा महिला की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी युवक के खिलाफ दुष्कर्म के आरोप में मुकदमा दर्ज किया मामले में पुलिस ने 3 अगस्त 2023 को कोर्ट में आरोप पत्र दाखिल किया।

दोनों पक्षों की बहस सुनने के बाद प्रथम अपर न्यायाधीश नसीम अहमद की अदालत में अपना फैसला सुनाते हुए आरोपी युवक को दोषमुक्त कर दिया, मुकदमा दर्ज कराने वाली महिला विधवा‌ है।

मंदिर की आड़ में कब्जा किए जाने की नीयत से बनाए जा रहे कथित मंदिर को नगर निगम प्रशासन ने किया ध्वस्त



ऋषिकेश, 29 जनवरी ‌। आईएसबीटी स्थित चंद्रभागा नदी के निकट मंदिर की आड़ में कब्जा किए जाने की नीयत से बनाए जा रहे कथित मंदिर को नगर निगम प्रशासन ने ध्वस्त कर दिया है।

ज्ञात रहे की आईएसबीटी स्थित खोखा यूनियन के कुछ लोगों द्वारा चंद्रभागा नदी के निकट मंदिर की आड़ में कब्जा किए जाने की नीयत से पहले से रखे गए शिवलिंग के बाद शनि का मंदिर बनाए जाने की शिकायत पर नगर निगम प्रशासन ने कार्रवाई को अमली जामा पहनाते हुए सोमवार की सुबह अतिक्रमण पर ध्वस्तीकरण की कार्रवाई की ।

जिसका विरोध करने आए खोखा यूनियन के अध्यक्ष नंदकिशोर जाटव ,दलबीर सिंह, अरविंद सिंह को नगर निगम प्रशासन ने समझाते हुए करवाई को अंजाम दिया।

नंद किशोर जाटव का कहना था कि इस संबंध में नगर निगम के मुख्य आयुक्त से मिलकर एक बार फिर मंदिर बनाए जाने के लिए आग्रह किया जाएगा, इसके बाद इस मंदिर को भव्य बनाया जाएगा। मंदिर हटाए जाने को लेकर आशुतोष शर्मा के नेतृत्व में 10-15 लोगों ने विरोध भी किया। परंतु पुलिस प्रशासन ने समझा बुझाकर उन्हें वापस लौटा दिया।

राम भजनों के दौरान हुई अश्लील हरकत को लेकर उपजे  विवाद में युवती की मौत का मामला  फरार चल रहे चारों आरोपी हुए गिरफ्तार



ऋषिकेश 22 जनवरी । 2 दिन पूर्व हुए ऋषिकेश कोतवाली थाना क्षेत्र अंतर्गत माया कुंड में राम भजनों के दौरान युवक द्वारा अश्लील हरकत करने पर रोके जाने को लेकर हुए विवाद में एक युवती के सिर पर कुकर मारकर गैर इरादातन हत्या के आरोप में युवक और उसके परिजनों को पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया गया है।

ऋषिकेश कोतवाली प्रभारी शंकर सिंह बिष्ट ने बताया कि सकल साहनी पुत्र  महेश्वर साहनी निवासी झुग्गी झोपड़ी मायाकुड थाना ऋषिकेश के द्वारा एक लिखित तहरीर  दी थी जिसमें बताया गया था कि 21 जनवरी 2024 को समय लगभग 19:00 बजे बैजनाथ साहनी पुत्र दुरई साहनी निवासी झुग्गी झोपड़ी बंगाली बस्ती मायाकुंड ऋषिकेश तथा उसके अन्य परिजनों के द्वारा उनके व परिवारजनों के साथ गाली गलौच करते हुए जान से मारने की धमकी देकर डंडों व प्रेशर कूकर से मारपीट करने पर दौराने मारपीट उनकी पुत्री रूपा के सिर पर गंभीर चोट आ जाने के बाद पुत्री रूपा की  एम्स अस्पताल ऋषिकेश में उपचार के दौरान मृत्यु हो गई है। 

प्राप्त लिखित तहरीर के आधार पर  बैजनाथ साहनी आदि के खिलाफ संबंधित धाराओं में पुलिस द्वारा मुकदमा धार कर लिया गया और जांच प्रारंभ कर दी गई।  तथा मृतका के शव का पंचनामा भर एम्स अस्पताल में पोस्टमार्टम की कार्यवाही की गई।

उच्च अधिकारी गणों को सूचना प्रदान कर प्रभारी निरीक्षक कोतवाली ऋषिकेश के द्वारा घटना के बाद से फरार आरोपीयो की गिरफ्तारी हेतु एक टीम का गठन किया गया| गठित टीम के द्वारा  मुखबिर तंत्र की सहायता से आज दिनांक 23 जनवरी 2024 को रोडवेज बस स्टैंड के पीछे आईएसबीटी ऋषिकेश से घटना उपरोक्त से संबंधित चार आरोपियो 

1-बैजनाथ साहनी पुत्र दुरई साहनी निवासी झुग्गी झोपड़ी बंगाली बस्ती माया कुंड ऋषिकेश देहरादून
2-शिवशंकर साहनी पुत्र बैजनाथ साहनी निवासी उपरोक्त
3-लड्डू साहनी पुत्र बैजनाथ साहनी निवासी उपरोक्त
4-सुनैना साहनी पत्नी बैजनाथ साहनी निवासी उपरोक्त को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस द्वारा घटना में प्रयुक्त प्रेशर कुकर को भी बरामद कर लिया गया है। सभी अभियुक्तो को निर्धारित समय अवधि में माननीय न्यायालय पेश किया जा रहा है। 

भगवान राम के भजनों के दौरान अश्लील हरकत करने पर रोके जाने के चलते दो पक्षों में हुई जमकर मारपीट हमलावरो‌ं ने बेटी का सिर कुकर मारकर फोड़ा , दोनों पक्ष के कई लोग हुए घायल बेटी की एम्स में उपचार के दौरान हुई मौत



ऋषिकेश, 22 जनवरी ‌।कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत मायाकुंड की झुग्गी झोपड़ी में दो पक्षों के रविवार की देर रात भगवान राम के बज रहे भजनों को लेकर हुए विवाद में एक युवती की सोमवार की शाम को‌ उपचार के दौरान एम्स में मौत हो गई है। उक्त मारपीट में कई लोग घायल भी हुए हैं।

सोमवार के शाम को ऋषिकेश कोतवाली में ‌ दी गई मृतक युवती के पिता ने पुलिस तहरीर में कहा है कि हमलावरों ने बेटी और उसके पूरे परिवार पर हमला किया‌ है। जिन्होंने उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की मांग की है। पुलिस ने हमलावरों की तलाश शुरू कर दी है।

ऋषिकेश कोतवाली पुलिस के प्रभारी निरीक्षक शंकर सिंह बिष्ट ने बताया कि सकल साहनी मायाकुंड स्थित झुग्गी झोपड़ी में रहता है। सकल साहनी के पड़ोस में उसकी बहन जयकल देवी का घर है।

जहां बीते रविवार की रात भगवान श्री राम के भजन चल रहे थे। इस दौरान पड़ोस में रहने वाला शिव शंकर साहनी कपड़े उतार कर डांस करने लगा। इस प्रकार की हरकत करने से रोकने पर शिव शंकर साहनी ने अपने भाई लड्डू, छोटू, पिता बैजनाथ और पारिवारिक महिलाओं सुनैना, रूपा और गंगा देवी के साथ मिलकर हमला कर दिया।

घटना में सकल साहनी का भाई भीम साहनी, बेटी रूपा और वह खुद गंभीर रूप से घायल हो गया। आरोप है कि शिव शंकर साहनी ने उसकी बेटी रूपा के सिर पर कुकर से वार किया। जिससे वह लहू लुहान हो गई। जिसे उपचार के लिए एम्स ले जाया गया। जहां उसने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया।

कोतवाल शंकर सिंह बिष्ट ने बताया कि तहरीर के आधार पर मामले में पुलिस मुकदमा दर्ज कर रही है। आरोपियों की धरपकड़ के प्रयास के लिए टीम में गठित कर भी प्रयास शुरू कर दिए हैं।

पिता-पुत्री के पवित्र रिश्ते को कलंकित करते हुए अपनी नाबालिग बेटी से दुष्कर्म के आरोप में पुलिस ने आरोपी कलयुगी पिता को किया गिरफ्तार महिला आयोग अध्यक्ष कुसुम कंडवाल ने लिया घटना का संज्ञान 



देहरादून 19 जनवरी। एक महिला द्वारा अपने पति के खिलाफ पुलिस को तहरीर देकर अपनी 16 वर्षीय नाबालिक पुत्री के साथ दुष्कर्म करने का आरोप लगाया है।

जिसको लेकर महिला आयोग  अध्यक्ष कुसुम कंडवाल  ने मामले का संज्ञान लेकर तुरंत एसएसपी को फोन मिलाते हुए इस पर कड़ी कार्रवाई करने के लिए कहा , जिस पर एसएसपी द्वारा कड़ी कार्रवाई करते हुए आरोपी कलयुगी पिता को गिरफ्तार कर लिया गया है।

उत्तराखंड की राजधानी देहरादून के थाना रायपुर क्षेत्र में  एक हैवान पिता द्वारा पिता-पुत्री के पवित्र रिश्ते को कलंकित करते हुए अपनी 16 वर्षीय नाबालिग बेटी से शराब के नशे में दुष्कर्म के मामले में उत्तराखंड राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष कुसुम कण्डवाल ने संज्ञान लेते हुए इस मामले में एसएसपी देहरादून से बात करते हुए कहा कि ऐसी हैवानियत भरे व्यक्ति के विरुद्ध कठोर से कठोर – कड़ी से कड़ी कार्यवाही होनी चाहिए।

जिस पर एसएसपी ने महिला आयोग अध्यक्ष कुसुम कंडवाल को जानकारी देते हुए बताया की पुलिस की टीम ने 16 वर्षीय नाबालिग बेटी से दुष्कर्म के आरोपी पिता को उसकी पत्नी द्वारा दी गयी तहरीर के अनुसार गिरफ्तार कर लिया गया है तथा आरोपी को जेल भेज दिया गया है।

उत्तराखंड राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष कुसुम कण्डवाल ने संज्ञान लेते हुए इस प्रकरण की घोर निंदा करते हुए कहा कि यह बहुत ही शर्मनाक मामला है, यह अत्यंत चिंता का विषय है कि यदि बेटी अपने ही पिता से सुरक्षित नहीं रहेगी तो समाज में किस प्रकार वह अपने आप को सुरक्षित महसूस करेगी। शराब व नशा आज परिवारों के नाश का कारण बन रहा है, इंसानियत तार तार हो रही है। एक तरफ वह परिवार की बेटियों का शोषण कर रहा है वहीं दूसरी और वो आरोपी, अपनी पत्नी पर हाथ उठा रहा है उसके साथ मारपीट कर रहा है।

राज्य महिला आयोग इसकी कड़ी निंदा करता है तथा आरोपी के विरुद्ध कड़ी से कड़ी कार्यवाही करने के लिए निर्देशित करता है ।साथ ही आयोग की अध्यक्ष कुसुम कण्डवाल ने कहा है कि महिला आयोग पीड़िता व उसके परिवार से मुलाकात कर उक्त पीड़िता व उसकी मां की काउंसलिंग कराएगा तथा उसे जल्द न्याय मिले उसके लिए तत्परता से उसके साथ है।

महिला आयोग की अध्यक्ष कुसुम कण्डवाल ने सभी महिलाओं को कहा है कि वो ऐसे मामलों से निपटने के लिए तैयार रहे और सरकार व प्रशासन द्वारा विभिन्न आवश्यक सेवा के नम्बर अपने फोन में सेव रखे तथा पुलिस विभाग के गौरा शक्ति ऐप, द्रुत ऐप तथा राज्य महिला आयोग के मोबाइल नंबर 8126774374, महिला हेल्पलाइन 1090/1091या 112 आदि पर शिकायत कर सकती है।